Raj Bhasha

 

 

केंद्रीय विद्यालय राजकोट

हिंदी राजभाषा तिमाही प्रतिवेदन  ( जनवरी से मार्च  2017)

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

क्र. स.

विद्यालय का नाम

क्या राजभाषा नियम 10 (4) में अधिसूचित है ?

कुल कार्मिकों की संख्या, उनमें से कितनों को हिंदी में कार्य साधक ज्ञान / प्रवीणता प्राप्त है (इसमें शिक्षकों को भी शामिल किया जाए )

प्रवीणता प्राप्त कार्मिकों मैं से कितनो को नियम 8 (4) के अंतर्गत विर्निदिष्ट किया गया है

क्या वर्तमान मैं कार्यरत सहायक/यू डी सी /एल डी सी को हिंदी मैं कार्यसाधक ज्ञान/प्रवीणता प्राप्त है

सेवा पुस्तिकाओं की संख्या, कितनी सेवा पुस्तिकाओं  हिंदी में प्रविष्टियाँ की जा रही है

निर्धारित प्रयोग में लाए जाने वाले कुल फॉर्म, उनमें से कितने अंग्रेजी में और कितने हिंदी में है

कार्यालय की अपनी वेबसाइट क्या अंग्रेजी/द्विभाषी है

तिमाही में विज्ञापन एवं प्रचार प्रसार पर किये गए कुल खर्च का ब्यौरा

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

1

2

3

4

 

5

6

7

8

9

 

 

 

कुल

कार्य साधक ज्ञान प्राप्त

प्रवीणता प्राप्त

प्रवीणता प्राप्त व कार्य साधक का %

 

कुल

कार्य साधक ज्ञान प्राप्त

प्रवीणता प्राप्त

कुल

जिनमें हिंदी की प्रविष्टयाँ की जा रही है

कुल

अंग्रेजी

हिंदी/द्विभाषी

अंग्रेजी /द्विभाषी

हिंदी

अंग्रेजी

अन्य

1

के. वि. राजकोट

हाँ

49

49

49

100%

2

2

हाँ

हाँ

49

49

50

-

50

द्विभाषी में उपलब्ध है

14633

12000

-

 

 

 

 

केन्द्रीय विद्यालय राजकोट

हिंदी पखवाडा (14 - 28 सितम्बर 2016)

प्रतिवेदन

केन्द्रीय विद्यालय राजकोट में हिंदी पखवाडा का शुभारम्भ दिनांक 14/09/16 को मुख्य अथिति एंव विशिष्ट अथिति द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर  किया गया | पखवाड़े के शुभारम्भ समारोह में मुख्य अथिति  महोदय श्री माधो कुमार मेहता (डिप्टी मामलात, विद्यालय प्रबंध समिति के सदस्य) एंव विशिष्ट अतिथि श्री कमल मेहता (शिक्षाविद, विभागाध्यक्ष अन्ग्रेजी, सौराष्ट्र विश्वविद्यालय) का प्राचार्य जी द्वारा स्वागत किया गया | इस अवसर पर छात्र –छात्राओं द्वारा हिंदी भाषा की महत्ता पर भाषण एंव कविताएँ प्रस्तुत की गई | प्राथमिक अध्यापक श्री प्रणव जानी द्वारा कविता की प्रस्तुति दी गई |

सम्पूर्ण पखवाड़े के दौरान विद्यार्थियों के लिए विविध प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया, जिनमे काव्य-पाठ, वाद-विवाद, आशु-भाषण एंव निबंध प्रतियोगिताएं प्रमुख थी | अध्यापक एंव कर्मचारी वर्ग के लिए भी विविध गतिविधियों का आयोजन किया गया | काव्य-पाठ, वाद-विवाद, आशु-भाषण, टंकण, समस्या-पूर्ति, प्रार्थना-पत्र लेखन आदि प्रतियोगिताओं में सभी की भागदारी सराहनीय रही |

पखवाड़े में  दिनांक -20/09/16 को पुस्तकालय में पुस्तक प्रदर्शिनी का आयोजन भी किया गया| प्रदर्शिनी में हिंदी भाषा की विविध विषयों से सम्बन्धित पुस्तकों का प्रदर्शन किया गया |

 हिंदी पखवाडा के समापन समारोह में सभी प्रतियोगिताओं की श्रेष्ठ प्रस्तुतियों को प्रस्तुत किया गया तथा सभी प्रतियोगिताओं में विजयी रहे प्रतिभागियों को प्राचार्य द्वारा पुरस्कृत किया गया|

प्रभारी

अपराजिता

(पी.जी.टी हिन्दी)                                                                                   प्राचार्य

                                                                                          अम्बरीश कुमार गुप्ता